Share Bazar » शेयर बाजार सीखें » Finance in Hindi » Credit Card in Hindi

Credit Card in Hindi क्रेडिट कार्ड क्या है

Credit Card in Hindi क्रेडिट कार्ड क्या है कैसे काम करता है और इसके फायदे और नुकसान क्या हैं। क्रेडिट कार्ड शॉपिंग करने और ऑनलाइन पेमेंट करने में बहुत उपयोगी हो सकता है। मगर जहां इसके फायदे हैं वहीं इसके नुकसान भी हैं। क्रेडिट कार्ड की जानकारी, यह कैसे काम करता है और इसे प्रयोग करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिये यह सब जानते हैं विस्तार से आसान हिंदी में।  यहां पढ़ें डेबिट कार्ड क्या है और डेबिट कार्ड तथा क्रेडिट कार्ड में अंतर हमारी साइट पर।


क्रेडिट कार्ड क्या है
क्रेडिट कार्ड क्या है Credit Card in Hindi

Credit Card in Hindi

क्रेडिट कार्ड एक वित्तीय कंपनी द्वारा जारी किया गया कार्ड है जो कार्डधारक को कार्ड पर जारी सीमा तक धन उधार लेने में सक्षम बनाता है। इसका उपयोग खरीददारी और सेवाओं के भुगतान के रूप में  किया जा सकता है। क्रेडिट कार्ड जारी करने की शर्त यह है कि कार्डधारक  उधार राशि और अतिरिक्त सहमत शुल्क यदि कोई हो तो उनका भुगतान करेगा। जारीकर्ता बैंक उधार की सीमा को निर्धारित करता है जोकि व्यक्ति की क्रेडिट रेटिंग और उधार चुकाने की क्षमता के आधार पर होती है। Credit Card in Hindi. Understanding use of Credit Card and other features in Hindi.


प्रयोग में आसान

क्रेडिट कार्ड के उपभोक्ताओं को साधारण लोन और क्रेडिट लाइन के अन्य रूपों की तुलना में अधिक ब्याज दर देना होता है। कार्ड से ली गई राशि पर ब्याज शुल्क आमतौर पर खरीद करने के एक महीने बाद शुरू होता है। यह उपभोक्ता वस्तुओं और सेवाओं के लिए भुगतान के सबसे लोकप्रिय रूपों में से एक हैं और लगभग हर व्यवसाय Credit Card के माध्यम से उत्पादों और सेवाओं का भुगतान स्विकार करता है।

फिक्स्ड डिपॉजिट के बदले भी

कई बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट के बदले में क्रेडिट कार्ड जारी करते हैं। वे लोग जिनकी क्रेडिट रेटिंग अच्छी नहीं है वे फिक्स्ड डिपॉजिट के बदले में क्रेडिट कार्ड ले सकते हैं। बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट की राशि के 90% तक की उधार सीमा के साथ क्रेडिट कार्ड जारी कर सकते हैं। ऐसे Credit Card पर ब्याज की दर सामान्य क्रेडिट कार्ड से कम हो सकती है।

भारी ब्याज

क्रेडिट कार्ड ग्राहक को मासिक स्टेटमेंट जारी करते हैं जिनमें उनके खरीद और कार्ड प्रयोग का ब्यौरा दिया होता है। ग्राहक को देय तिथी तक भुगतान करना होता है। यदि ग्राहक देय तिथी तक पूरा भूगतान नहीं करता तो उसे ब्याज देना पड़ता है। आमतौर पर क्रेडिट कार्ड की देय राशी पर बैंक 30% से 36% प्रतिशत वार्षिक दर तक ब्याज लेते हैं।

सोच समझ कर करें उपयोग

Credit Card का उपयोग लेन देन को आसान बना देता है मगर इसका उपयोग सोच समझ कर ही करना चाहिये। क्योंकि कार्ड के उपयोग के समय हमें कोई भुगतान नहीं करना होता है, इस कारण हो सकता है कि खरीददारी करते समय हमें इस बात की और ध्यान ना जाये कि जब इसका बिल आयेगा तो हम उसे चुकता करने की हालत में होंगे या नहीं। इसीलिये इसका उपयोग सोच समझ कर और बेहद जरूरी होने पर ही करना चाहिये। क्रेडिट कार्ड के संयमित उपयोग को समझने के लिये हमारा लेख पैसे की बचत पढ़ें।

Credit Card in Hindi क्रेडिट कार्ड क्या है और इसके क्या उपयोग हैं यह जानने के बाद समझ में आ गया होगा कि इसका संयमित उपयोग ही करना चाहिये और बिना सोचे समझे की गई खरीददारी पछतावे का कारण भी बन सकती है।

जरूर पढ़ें हमारे यह पोस्ट

Leave a Comment