निवेश के लिये शेयर कैसे चुनें

निवेश के लिये शेयर कैसे चुनें जिनमें कम रिस्क हो और लाभ की संभावना अधिक हो। ऐसे शेयर चुनना वाकई कठिन हो सकता है जिनमें लाभ की संभावना आधिक हो और जोखिम बहुत ही कम हो। हम ऐसे तरीके सीख सकते हैं जिससे कि हमें अपने निवेश में मुंह की ना खानी पड़े और हमारा पैसा और निवेश बढ़ता ही रहे। सावदानी से चलेंगे तो यहां शेयर मार्केट में आप अच्छा पैसा बना सकते हैं बस आपको पता होना चाहिये कि निवेश के लिये शेयर कैसे चुनें और वह कौन सा तरीका है जिससे कम रिस्क में अधिक पैसा बनाया जा सके।

निवेश के लिये शेयर कैसे चुनें
निवेश के लिये शेयर कैसे चुनें

निवेश के लिये शेयर कैसे चुनें

हमने आपको पहले भी कई बार बताया है कि कभी भी टिप्स के आधार पर निवेश ना करें। दोस्तों, रिश्तेदारों के बताये टिप्स की अवहेलना करना ही बेहतर होता है। इसी प्रकार आपके ब्रोकर या अन्य कई वेब साइट आपको निवेश के टिप्स और मैसेज भेजते होंगे। सबसे अच्छा तो यह है कि आप स्वयं स्टडी करें और अपने निवेश को समझें। आपको बताते हैं कि फंडामेंटल यानि आधारभूत रूप में मजबूत शेयर कैसे चुन सकते हैं।

आधारभूत रूप में मजबूत शेयर

आपको इसमें यह देखना होगा कि कंपनी लगातार अच्छे फायनेंशल नतीजे दे रही है कि नहीं। आप तीन से पांच साल तक के नतीजे देख सकते हैं। कंपनी यदि आधारभूत रूप में मजबूत नहीं है तो उसमें निवेश ना करें। इसके लिये आपको जांचना होगा। निवेश के लिये शेयर कैसे चुनें यह सोचते हुए निम्न मानकों को जरूर परखें।

ईपीएस : सालाना ही नहीं आप तिमाही नतीजों में भी देख सकते हैं कि कंपनी का ईपीएस लागातार बढ़ रहा है या नहीं। इसका सीधा अर्थ है कि कंपनी की कमाई बढ़ रही है तो शेयर भी बढ़ेगा ही।

पी/ई रेशो : यदि कंपनी का पीई रेशो अपने उद्योग में दूसरी कंपनियों के मुकाबले कम है तो शेयर के बढ़ने की संभावना आधिक हो सकती है।

बुक वेल्यू : शेयर की बुक वेल्यू और प्राईज/बुक वेल्यू देखें। अपने उद्योग में दूसरी कंपनियों के मुकाबले कम है या नहीं।

लाभांश : कंपनी लगातार लाभांश दे रही हो।

यदि यह सब सूचनायें अच्छीं हैं तो कंपनी की बैलेंस शीट भी पढ़ें।

कंपनी क्या काम करती है

यह समझना बहुत जरूरी है कि जिस शेयर में आप निवेश कर रहे हैं वह कंपनी क्या बनाती है या कौन सी सेवायें देती है। कई प्रॉडक्टस ऐसे होते हैं जो हमारे रोज मर्रा के काम में हम प्रयोग करते हैं, उनके बारे में हमें अच्छी समझ होती है। आप जिस कंपनी के  शेयर को खरिदना चाहते हैं वह कंपनी क्या करती है इसकी अपको बहुत अच्छे से समझ होनी चाहिये। याद रखिये मोबाइल निर्माता और मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियां अलग अलग होतीं हैं। उसी प्रकार मोबाइल सेवा प्रदाता और मोबाइल टॉवर मैनटेनेंस कंपनियां अलग अलग होतीं हैं। उसी प्रकार तेल प्रोसेस कंपनियां और तेल मार्केटिंग कंपनियां भी अलग अलग होतीं हें। कंपनी के बिजनेस को समझना बहुत आवश्यक है।


कंपनी का भविष्य

जो कंपनी भूत काल में अच्छी थी उस कंपनी का भविष्य कैसा होगा यह भी समझ लें। क्या कंपनी का उत्पाद लंबे समय तक प्रयोग होने वाला होगा। कंपनी कोई ऐसा उत्पाद तो नहीं बनाती जो कुछ सालों में प्रयोग होना ही बंद हो जाये। बदलती तकनीक के जमाने में यह जानना बहुत आवश्यक है। कभी किसी ने सोचा था कि टापराइटर म्यूजियम में रखने की चीज बन जायेंगे?

अपने उद्योग में लीडर

ऐसी कंपनी जिसको उसके कंपीटीटर हरा ना सकते हों। अपने आसपास देखिये, कई प्रॉडक्टस मिल जायेंगे जो घर घर में प्रयोग होते हैं। जैसे कि सर्फ, यहां तक कि वासिंग पॉवडर की जगह सर्फ ही बोला जाता है। ऐसी कई कंपनियां मिल जायेंगी जिनका अपने उद्योग में बोलबाला है और कोई प्रतिद्वंद्वी उनके नजदीक नहीं पहुंच पाता है।

कंपनी क्या अनोखा कर रही है

ऐसा काम जो कोई नहीं कर रहा उस उद्योग में। कोई सर्विस सैँटर का नेटवर्क या कोइ प्रॉडक्ट का कॉपीराइट जिसे कोई दूसरा बना नहीं सकता। ऐसी कंपनियां अपने उद्योग में लीडर बन जातीं हैं।

कंपनी पर कर्ज

कंपनियां अपने विस्तार के लिये कर्ज लेती ही हैं। देखने वाली बात है कि कंपनी कितना ब्याज दे रही है वह उसके लाभ के मुकाबले कितना है। आधिक कर्ज वाली कंपनियों से बच कर रहना ही श्रेयकर है।

मेनजमेंट

एक अच्छी मेनजमेंट टीम ही एक अच्छी कंपनी और नतीजे दे सकती है। अच्छी टीम अचानक आने वाले संकटों से भी बचाती है और कंपनी को नई उंचाइयों पर ले जाने में सक्षम होती है।

बोनस

कंपनी का बोनस और डिविडेंड का रिकार्ड भी देखें। यदि मेनजमेंट की नीति लगातार बोनस देने की रही है तो यह ना सिर्फ मेनजमेंट के आत्मविश्वास का परिचायक है बल्कि यह कंपनी के भविष्य में भी ऐसा ही करने की संभावनाओं का प्रतीक भी हो सकता है।

निवेश के लिये शेयर कैसे चुनें यह पूरी गारंटी के साथ ऐसे लेख में तो बता पाना मुश्किल है पर यदि आप इन सब बातों का ख्याल रखेंगे तो आपके लाभ की संभावना अवश्य बढ़ जायेगी।


One thought on “निवेश के लिये शेयर कैसे चुनें

Leave A Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *