Share Bazar » शेयर बाजार सीखें » म्यूचुअल फंड

SIP बंद कैसे करवाएं

SIP बंद कैसे करवाएं यह जानना बहुत आवश्यक है। यदि आप भी म्यूचुअल फंड में SIP के द्वारा निवेश करते हैं और यह जानना चाहते हैं कि एक बार SIP शुरू होने के बाद उसे बंद कैसे करवाएं तो यहाँ पढ़ें। बहुत से लोग नहीं जानते कि वे कभी भी अपने एसआईपी को रोक सकते हैं। एसआईपी को रोकने या आपके निवेश को रद्द करने के लिए कोई जुर्माना या शुल्क नहीं लगता है। एसआईपी को एक निश्चित अवधि के लिए अस्थाई तौर पर भी रोका जा सकता है। SIP के बारे में अधिक जानकारी और अन्य पहलुओं को जानने के लिये SIP meaning in Hindi हमारा लेख विस्तार से पढ़ें।



SIP बंद कैसे करवाएं

एसआईपी को बंद करने की आवश्यकता

व्यवस्थित निवेश योजना (एसआईपी) या सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान एक चुनी हुई म्यूचुअल फंड स्कीम में पूर्वनिर्धारित अवधि के लिए हर महीने एक निश्चित राशि निवेश करने की योजना है। विस्तार से SIP क्या है हमारी साइट पर पढ़ें। आप अपने निवेश करने के निर्णय की नयी जानकारी के आधार पर समीक्षा कर सकते है जो कि योजना के प्रदर्शन या संचालन के संबंध में उपलब्ध हो, या निवेशक की व्यक्तिगत आवश्यकता में बदलाव, जिससे एसआईपी को बंद करने की आवश्यकता हो। पढ़िये SIP vs RD in hindi हमारी साइट पर।


SIP बंद क्यों करवाना चाहते हैं?

आपकी म्यूचूअल फ़ंड स्कीम कैसा प्रदर्शन कर रही है इसकी तुलना आप बाज़ार के बेंच मार्क या वैसी ही अन्य स्कीम के उसी अवधि में किए गए प्रदर्शन से कर सकते हैं। यदि आप अपना SIP इसलिए बंद करवा रहे हैं कि बाज़ार का ही प्रदर्शन ख़राब है तो एक बार फिर से सोच लें। कोई भी फैसला करने से पहले गिरते बाजार में SIP चालू रखने के फ़ायदे जान लें। SIP का मुख्य उद्देश्य ही यही है कि बाज़ार की ऊँची नीची हालात में हर स्तर पर निवेश किया जाए। फिर भी यदि आप अपने SIP को बंद करवाना चाहते हैं तो SIP बंद कैसे करवाएं यह आपको नीचे बताते हैं।

SIP बंद करवाने के लिए म्यूचुअल फंड और बैंक जिसके माध्यम से आवधिक निवेश के लिए धन उपलब्ध कराया जा रहा है, को एसआईपी को बंद करने के फैसले के बारे में सूचित किया जाना चाहिए। आप ऐसे ऑनलाइन या बैंक अथवा म्यूचूअल फ़ंड स्कीम के ऑफ़िस की शाखा या अपने एडवाइजर के पास जा कर करवा सकते हैं।

  • अपने बैंक से SIP बंद करवाएं

    यदि आप SIP में निवेश ECS से करवाते हैं तो आप अपने बैंक को सूचित कर सकते हैं और ECS को रुकवा सकते हैं। इसके लिए आप ऑनलाइन बैंकिंग में अपनी म्यूचूअल फ़ंड कम्पनी को बिलर के रूप में हटा सकते हैं। इसके अलावा बैंक की शाखा में जा कर भी ECS को रुकवा सकते हैं। आप अपने खाते में बैलेन्स कम कर सकते हैं। ज़्यादातर तीन बार यदि ECS से राशि नहीं मिलती है तो म्यूचूअल फ़ंड आपके SIP को बंद कर देता है।

  • ऑनलाइन SIP कैसे बंद करवाएं

    आप अपनी म्यूचूअल फ़ंड कम्पनी के ऑनलाइन साइट पर जाएँ और उनके द्वारा दिए गए यूज़र आइडी और पास्वर्ड से लोगिन करके अपनी स्कीम के SIP को बंद कर सकते हैं। यदि आपने किसी ब्रोकर या ट्रेडिंग कम्पनी से SIP लिया है तो सम्बंधित साइट पर जाकर आप इसे ऑनलाइन बंद करवा सकते हैं।

  • ऑफलाइन SIP बंद करवाएं

    ऑफलाइन अपने एसआईपी को बंद कैसे करवाएं यह बहुत आसान है। उपयोगकर्ता को एसआईपी कैन्सेलेशन फॉर्म डाउनलोड करने की आवश्यकता है और एसआईपी कैन्सेलेशन फॉर्म निवेशक द्वारा भरा जाना चाहिए। निवेशक को इसे विशेष म्यूचुअल फंड कंपनी या आपके वितरक / म्यूचुअल फंड के ब्रोकर या उस म्यूचुअल फंड के रजिस्ट्रार को जमा करने की आवश्यकता है। फॉर्म म्यूचुअल फंड वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है।

  • अनुसरण करने के लिए कदम

    वेबसाइट से एसआईपी कैन्सेलेशन फॉर्म डाउनलोड करें और इसे ए 4 पेज पर प्रिंट करें। दस्तावेज प्रारंभ तिथि और विराम की समाप्ति तिथि को फॉर्म में स्पष्ट रूप से उल्लिखित किया जाना चाहिए। फॉर्म मौजूदा एसआईपी, निवेशक का नाम और फोलीओ नंबर के ब्योरे के लिए पूछता है। यह सब विवरण भरने के बाद आपको उस पर हस्ताक्षर करने होते हैं। सभी यूनिट धारकों को एसआईपी कैन्सेलेशन फ़ॉर्म पर हस्ताक्षर करने की आवश्यकता है।

  • आवश्यक विवरण

    आपको निम्नलिखित विवरण भरने की जरूरत है: आवेदकों का नाम PAN नम्बर, योजना का नाम, फोलियो संख्या, एसआईपी अवधि: प्रारंभ तिथि और समाप्ति तिथि, एसआईपी राशि, बैंक का विवरण, ईसीएस का विवरण। दस्तावेज पर हस्ताक्षर करने के बाद इस एसआईपी कैन्सेलेशन फॉर्म को म्यूचुअल फंड हाउस या निधि के रजिस्ट्रार या आपके वितरक / ब्रोकर / सलाहकार / परामर्शदाता एजेंट के पास जमा करवा दें। आवेदक भी अपने आवेदन को ट्रैक कर सकता है। अपने एसआईपी कैन्सेलेशन आवेदन पत्र की स्थिति को ट्रैक करने के लिए, आपको एसआईपी कैन्सेलेशन फॉर्म और पावती पर्ची की एक प्रति रखनी होगी। अपना अनुरोध जमा करने के बाद एसआईपी ईसीएस को रोकने में लगभग 30 दिन लगते हैं।


यहां हमने आसान हिंदी में विस्तार से समझा SIP बंद कैसे करवाएं जिससे आवश्यक्ता पड़ने पर आप इसे बंद करवा सकें।

आगे पढ़ें गिरते बाजार में SIP चालू रखने के फायदे

म्यूचुअल फंड पर हमारे यह पोस्ट अवश्य पढ़ें