Share Bazar » शेयर बाजार सीखें » टैक्स सेविंग

Tax Saving Schemes in Hindi टैक्स सेविंग स्कीम

Tax Saving Schemes in Hindi टैक्स सेविंग स्कीम – बचत के साथ कर बचाने के लिये कहां निवेश करें। कर बचत योजनायें जिनमें आप निवेश कर सकते हैं जिससे करों की बचत होती है और भविष्य के लिये निवेश भी कर सकते हैं।टैक्स सेविंग स्कीम्स की जानकारी, कैसे यह योजनायें अपको बचत करने के लिये प्रेरित करती हैं और केसे इनमें निवेश कर आप इनकम टैक्स में भी बचत कर सकते हैं। Tax Saving Schemes for investment and savings in Hindi.



Tax Saving Schemes in Hindi टैक्स सेविंग स्कीम

टैक्स बचाने के विकल्प

भारत में कर बचत योजनाओं में स्मार्ट निवेश करके करों की मात्रा कुछ हद तक कम हो सकती है। उपलब्ध योजनाओं का उचित उपयोग करके इंकम टैक्स को कम किया जा सकता हैं। आयकर अधिनियम 1961 के विभिन्न वर्ग हैं जो कर कटौती और धारा 80 सी, 80 डी, 80 सीसीएफ के अंतर्गत कई ऐसी योजनाओं का प्रावधान है जिनमें निवेश करके करों में छूट प्राप्त कर सकते हैं। कई सरकारी और निजी क्षेत्र के संगठन भारतीय निवासियों के लिए कर बचत विकल्पों की विस्तृत श्रृंखला प्रदान करते हैं।


आयकर बचत योजनाएं

आयकर बचत योजनाएं आयकर अधिनियम, 1961 के प्रासंगिक वर्गों के अनुसार पेश की जाती हैं। इनमें से प्रमुख धारा 80 सी है जो सालाना 1.5 लाख रुपये तक संभावित कर बचत विकल्प प्रदान करता है। ऐसे अन्य वर्ग भी हैं जो व्यक्तियों को लाभ प्रदान करते हैं। प्रमुख आयकर बचत योजनाओं में शामिल हैं:

पब्लिक प्रॉविडेंट फंड

इसे पीपीएफ भी कहा जाता है, आप इस कर बचत योजना में प्रति वर्ष 15 लाख रुपये का अधिकतम योगदान कर सकते हैं। पीपीएफ को पेनल्टी दिये बिना 15 साल पहले वापस नहीं लिया जा सकता।

यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान

इन्हें यूलिप भी कहा जाता है। ये कर बचत योजनाएं प्रति वर्ष 1 लाख रुपये प्रति वर्ष अधिकतम छूट की अनुमति देती हैं। निवेश छूट के अलावा इनकी परिपक्वता आय भी कर से मुक्त है।

टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट

टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट  5 साल के एक निश्चित कार्यकाल के लिए उपलब्ध है और इसमें धारा 80 सी में कर लाभ उठाने के लिए अधिकतम 1 लाख रुपये का निवेश किया जा सकता है।

कर्मचारी भविष्य निधि

इसे ईपीएफ भी कहा जाता है, यह एक और निवेश योजना है जो प्रति वर्ष 1 लाख रुपये तक कर लाभ प्रदान करती है।

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट

इसे एनएससी भी कहा जाता है, इस उपकरण का उपयोग कर बचत ब्याज प्रति वर्ष 1 लाख रुपये प्रति वर्ष 80 सी के अंतर्गत कर बचाने के लिए किया जा सकता है। यहां नेशनल सेविंग सर्टीफिकेट के बारे में विस्तार से पढ़ें।

इक्वटी लिंकड सेविंग स्कीम

ईएलएसएस म्यूचुअल फंड के माध्यम से कर बचत के लिए लोकप्रिय टैक्स सेविंग स्कीम हैं। ये फंड प्रति वर्ष 1 लाख रुपये तक छूट के लिए अनुमति देते हैं।

जीवन बीमा

जीवन बीमा योजनाएं एंडॉमेंट, मनी-बैक या होल लाइफ प्लान हो सकती हैं। इन योजनाओं में बचत भी की जाती है और एक निश्चित अवधि के लिये निश्चित बीमा राशि भी निर्धारित होती हैं। इनमें परिपक्वता तक प्रत्येक वर्ष प्रीमियम का भुगतान किया जाना है। ऐसी कुछ योजनाओं में सीमित प्रीमियम भुगतान विकल्प भी होता है।
जीवान बीमा में प्रीमियम भुगतान में धारा 80 सी के तहत कर लाभ मिलता है। जीवन बीमा की मैच्योरिटी वेल्यू और और मृत्यु क्लेम भी कर मुक्त है। आप यहां बीमा के बारे में विस्तार से पढ़ सकते हैं।

डाकघर कर बचत योजनाएं

कई डाकघर बचत योजनाएं धारा 80 सी के दायरे में आती हैं। आप विभिन्न डाकघर निवेश विकल्पों के माध्यम से हर साल कर लाभ में 1 लाख रुपये तक की बचत कर सकते हैं। डाकघर द्वारा पेश की जाने वाली कुछ प्रमुख टैक्स सेविंग स्कीम हैं:

डाक घर फिक्स्ड डिपॉजिट
डाक धर आवर्ती जमा खाता
सार्वजनिक भविष्य निधि खाता
वरिष्ठ नागरिक बचत योजना
राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र
सुकन्या समृद्धि योजना

इस प्रकार की योजनाओं में निवेश कर आसानी से टैक्स बचाया जा सकता है।


इस प्रकार हमने बताया Tax Saving Schemes for investment in Hindi जिससे आप विभिन्न प्रकार की टैक्स सेविंग स्कीम्स में निवेश कर करों में छूट प्राप्त कर सकते हैं।

टैक्स बचत पर हमारे यह लेख अवश्य पढ़ें