Dividend in Hindi

Dividend in Hindi डिविडेंड क्या है. डिविडेंड यानि लाभांश का अर्थ क्या होता है और Dividend Yield डिविडेंड यील्ड क्या होता है जानते हैं आसान हिंदी में. डिविडेंड का मतलब होता है लाभांश यानि कि लाभ का अंश. या इसे अंश यानी शेयर पर लाभ भी कह सकते हैं. शेयरों में निवेश से पहले क्यों देखना चाहिए कंपनी का डिविडेंड रिकॉर्ड और डिविडेंड यील्ड की गणना करके कैसे चुन सकते हैं कम रिस्क वाले शेयर आइये समझते हैं विस्तार से.

Dividend in Hindi डिविडेंड यानि लाभांश का अर्थ
Dividend in Hindi डिविडेंड यानि लाभांश का अर्थ

अब यदि आपने किसी कंपनी का शेयर खरीदा है तो आप उस कंपनी के उस हिस्से के मालिक हुए कि नहीं? और यदि बतौर शेयर होल्डर यानी बतौर शेयर धारक आप कंपनी के एक हिस्से के मालिक हैं तो उस कंपनी के प्रॉफिट या लाभ में आपका भी हिस्सा बनता है या नहीं? आसान शब्दों में शेयर धारक को उसके शेयरों पर मिलने वाले कंपनी के लाभ के हिस्से को डिविडेंड या लाभांश कहेंगे.

Dividend in Hindi डिविडेंड यानि लाभांश का अर्थ

डिविडेंड का अर्थ है प्रतिलाभ, नकद या वह कुछ भी जो कंपनी अपने शेयरधारकों को देती है। लाभांश को विभिन्न रूपों में जारी किया जा सकता है, जैसे कि कैश भुगतान, स्टॉक या किसी अन्य रूप में। कंपनी का लाभांश निदेशक मंडल द्वारा तय किया जाता है और इसके लिए शेयरधारकों की मंजूरी की आवश्यकता होती है। डिविडेंड आमतौर पर लाभ का एक हिस्सा होता है जो कंपनी अपने शेयरधारकों के साथ शेयर करती है, हालांकि, कंपनी के लिए लाभांश का भुगतान करना अनिवार्य नहीं है।

अपने लेनदारों का भुगतान करने के बाद, एक कंपनी अपने शेयरधारकों को लाभांश के रूप में इनाम देने के लिए आंशिक या संपूर्ण बचे हुए लाभ का उपयोग कर सकती है। हालांकि, जब कंपनियां नकदी की कमी का सामना कर रही हों या फिर कंपनी के विस्तार के लिए नकदी की जरूरत हो तो वह लाभांश नहीं भी दे सकती हैं।

जब कोई कंपनी लाभांश की घोषणा करती है तो यह एक रिकॉर्ड तिथि भी तय करती है और उस तिथि को पंजीकृत सभी शेयरधारक अपने शेयर होल्डिंग के अनुपात में लाभांश भुगतान प्राप्त करने के योग्य हो जाते हैं। डिविडेंड भुगतान आमतौर पर कंपनी के शेयर की कीमत के मूलभूत मूल्य को प्रभावित नहीं करता है।

उच्च वृद्धि दर वाली कंपनियां और अपने उपक्रम के शुरुआती चरण में कई कम्पनियाँ लाभांश का भुगतान नहीं करतीं हैं क्योंकि वे उच्च लाभ और विस्तार को बनाए रखने में मदद के लिए अपने लाभ का पुनर्निवेश करना पसंद करतीं हैं। दूसरी ओर स्थापित और विकसित कम्पनियाँ अपने वफादार निवेशकों को इनाम देने के लिए नियमित लाभांश देने का प्रयास करतीं हैं.


Dividend Yield डिविडेंड यील्ड क्या होता है

Dividend Yield डिविडेंड यील्ड शेयरधारकों को दिए गए नकद लाभांश की मात्रा को मापता है जो उन्हें प्रति शेयर बाजार मूल्य के अनुपात में मिला है. डिविडेंड यील्ड उस कंपनी में निवेशकों द्वारा किए गए कुल निवेश पर लाभांश के माध्यम से मिली आय की मात्रा को मापता है. डिविडेंड यील्ड की गणना प्रति शेयर लाभांश को प्रति शेयर मार्केट प्राइस से विभाजित करके और परिणाम को 100 से गुणा करके की जाती है। यह आमतौर पर प्रतिशत के रूप में व्यक्त की जाती है। डिविडेंड यील्ड की गणना के लिए फार्मूला

डिविडेंड यील्ड = शेयर प्रति कैश डिविडेंड / मार्किट प्राइस प्रति शेयर * 100

मान लीजिए कि कंपनी 500 रुपए के बाजार भाव के साथ 20 रुपए प्रति शेयर के लाभांश की घोषणा करती है। उस मामले में शेयर का डिविडेंड यील्ड 20/500 * 100 = 4% होगा। उतार-चढ़ाव के समय के दौरान ऊंचे डिविडेंड यील्ड वाले शेयर निवेश का अच्छा विकल्प होते हैं, क्योंकि ये शेयर निवेश पर अच्छा रिटर्न देते हैं. जो निवेशक अधिक जोखिम नहीं लेना चाहते उन निवेशकों के लिए ऊंचे डिविडेंड यील्ड वाले शेयर निवेश का अच्छा विकल्प होते हैं इसीलिए निवेशकों को शेयरों में निवेश के समय शेयर के बाजार भाव के साथ-साथ कंपनी के लाभांश-भुगतान ट्रैक रिकॉर्ड की जांच भी करनी चाहिए.

इनकम स्टॉक और ग्रोथ स्टॉक

ऊंचे डिविडेंड यील्ड वाले शेयरों की जो कंपनियां आम तौर पर मुनाफे का ज्यादा हिस्सा अपने पास नहीं रखती हैं उनके शेयरों को इनकम स्टॉक या आय वाले शेयर कहते हैं. इसके विपरीत कम डिविडेंड यील्ड वाली कम्पनियां जहां कंपनियां अपनी कमाई के रूप में मुनाफे का एक बड़ा हिस्सा अपने पास ही रखती हैं और उस राशि का प्रयोग कारोबार बढाने के लिए करना चाहतीं हैं ऐसे शेयरों को ग्रोथ स्टॉक कहते हैं.

यह था Dividend in Hindi डिविडेंड क्या है. डिविडेंड यानि लाभांश का अर्थ क्या होता है और Dividend Yield डिविडेंड यील्ड क्या होता है आसान हिंदी में. आशा है आपको समझ आ गया होगा और अगली बार शेयरों में निवेश करने से पहले आप इस बात का भी ध्यान रखेंगे.