Share Bazar » शेयर बाजार सीखें » Finance in Hindi » बैंक खाते की स्टेटमेंट कैसे पढ़ें

बैंक खाते की स्टेटमेंट कैसे पढ़ें

बैंक खाते की स्टेटमेंट कैसे पढ़ें और जानें बैंक खाते की स्टेटमेंट में कहां क्या लिखा होता है। यदि आपको भी अपने बैंक खाते की स्टेटमेंट में यह समझ नहीं आता कि कहां क्या लिखा है और उसका क्या मतलब निकाला जाये तो आपको समझाते हैं आसान हिंदी में। आप अपने बैंक बैलेंस को देख कर हैरान हैं कि यह बैलेंस कैसे आया और समझ नहीं पा रहे कि बैलेंस की गणना कैसे की गयी है, किस प्रविष्टी का क्या मतलब है तो यह सब आपको विस्तार से बताते हैं। How to read your Saving Bank Account Statment in Hindi. यहां पढ़िये Toll free Numbers of Banks and Insurance Companies.


बैंक खाते की स्टेटमेँट कैसे पढ़ें
बैंक खाते की स्टेटमेँट कैसे पढ़ें

कैसे पढ़ें

आपको अपने बैंक खाते के लिये पासबुक मिला है, स्टेटमेंट ईमेल से मिला है या आपने ऑनलाइन मोबाइल बैंकिंग से डाउनलोड किया है, जरूरी है कि आपको उसे पढ़ना आना चाहिये। इससे ना सिर्फ आपको अपने खाते की गतिविधियों का पता रहेगा, खाते में हुई किसी अनाधिकृत लेनदेन का भी पता चलेगा। इसके अलावा बैंक द्वारा लगाये गये चार्जेज या शुल्क भी समझ आ जायेंगे जिससे कि यदि आप बैंक द्वारा लगाये गये शुल्क से असंतुष्ट हैं तो अपने बैंक से संपर्क करके उसे हटाने के लिये भी कह सकते हैं। आपको हमेशा अपने बैंख खाते में हो रही गतिविधियों पर नजर रखनी चाहिये और अपने बैंक खाते की सुरक्षा का ध्यान रखना चाहिये। यहां पढ़ें मिनिमम बैंलेंस क्या हैहमारी साइट पर।


मुख्य कॉलम

बैंक स्टेटमेंट में मुख्य कॉलम यानी स्तंभ होते हैं क्रम संख्या, तारीख,चेक संख्या, विवरण, डेबिट, क्रेडिट और बैलेंस। विस्तार से इन सब को समझते हैं।

कहां क्या लिखा है
कहां क्या लिखा है

क्रम संख्या

क्रम संख्या या Serial Number प्रविष्टियों के क्रम को दर्शाता है।

तारीख

तारीख या Transaction Date उस प्रविष्टी की तारीख बताता है। ध्यान रहे कि जब हम चैक जमा करवाते हैं तो प्रविष्टी की तारीख उस दिन की हो सकती है जब चेक क्लियरिंग के लिये गया। हो सकता है खाते में उस चेक की राशी अगले दिन ही निकासी के लिये उपलब्ध हो।

चेक संख्या

यहां जिस चेक की प्रविष्टी की गयी है उसकी संख्या दर्ज होती है।

विवरण

विवरण या Particulars में प्रविष्टी का विवरण लिखा रहता है। यहां लिखने के लिये बैंक के पास सीमित जगह होती है इसलिये कई सूचनायें संक्षिप्त अक्षरों में लिखी हो सकतीं हैं। यहां आपके सभी जमा और निकासियों का विवरण रहता है। धन यदि ATM से निकलवाया तो वह ATM कहां स्थित है वह स्थान लिखा हो सकता है। जिसे चेक दिया उसका नाम लिखा हो सकता है। ऑनलाइन पेमेंट किस मर्चेंट को किया उसका नाम लिखा हो सकता है। यदि कोई जमा आया है तो उसका ट्रांजेक्शन रेफरेंस नंबर लिखा हो सकता है। बैंक ने कोई शुल्क लिया है तो उसका भी विवरण लिखा होगा। तिमाही ब्याज मिलने पर उसका विवरण भी हो सकता है। आम तौर पर सभी तरह की प्रविष्टियां आपको समझ आ जायेंगी। यादि कोई प्रविष्टी समझ ना आये तो तुरंत अपने बैंक को संपर्क करना चाहिये।

डेबिट

डेबिट, Debit या Withdrawals का मतलब है सभी तरह की निकासियां। इसमें ATM निकासी, चेक जो जारी किये, डेबिट कार्ड खरीद, ऑनलाइन या UPI पेमेंट तथा बैंक शुल्क जैसी मद अयेंगी। यहां दी गयी राशी आपके पिछले दिन के बैलेंस में से घटा दी जायेगी।

क्रेडिट

क्रेडिट, Credit या Deposits का मतलब है सभी तरह के जमा। यहां सभी तरह के नकद जमा, चेक जमा, ऑनलाइन मिली राशी और बैंक से मिला ब्याज जमा होता है। यहां दी गयी राशी आपके पिछले दिन के बैलेंस में जोड़ दी जायेगी।

बैलेंस

यहां दिन के आखिर में बची राशी दिखायी जाती है।

उम्मीद है कि How to read your Saving Bank Account Statment in Hindi यानी बैंक खाते की स्टेटमेंट कैसे पढ़ें  आपको समझ आ गया होगा और अब इसको ले कर आपके मन में कोई शंका नहीं होगी।

जरूर पढ़ें हमारे यह पोस्ट

Leave a Comment