शेयर बाजार में पैसा कमाना चाहते हैं तो खुद को रखें अप टू डेट

शेयर बाजार में पैसा कमाना चाहते हैं तो खुद को रखें अप टू डेट. शेयर बाजार की गतिविधियाँ, कंपनियों के बारे में समाचार और अन्य सूचनाएँ, शेयर बाजार कैसे काम करता है इस सब की जानकारी के अलावा और भी क्या क्या जानकारी शेयर बाजार में निवेश करने वालों को ध्यान में रखनी चाहिएं. किन समाचारों, आंकड़ों और रुझानों का हमें ध्यान रखना चाहिए और इन सब का हमारे निवेश पर क्या असर हो सकता है आज आपको विस्तार से बताते हैं.  शेयर बाजार के बारे में अधिक जानकारी और अन्य पहलुओं को जानने के लिये Share Market in Hindi विस्तार से पढ़ें।

शेयर बाजार में पैसा कमाना चाहते हैं तो खुद को रखें अप टू डेट
शेयर बाजार में पैसा कमाना चाहते हैं तो खुद को रखें अप टू डेट

शेयर बाजार में पैसा कमाना

शेयर बाजार में वास्तव में वही कमा सकता है जो इसके बारे में अच्छी सी जानकारी रखता है. और केवल जानकारी प्राप्त कर लेना ही काफी नहीं है, यहाँ हमेशा आपको ताजा जानकारी और समाचार भी जानने होते हैं. यदि आप शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो जिन कम्पनियों के शेयरों को आपने खरीद रखा है या जिन शेयरों को आप खरीदना चाहते हैं उनके बारे में और उनके आर्थिक परिणामों के बारे में आपको ध्यान रखना होगा कि उस कंपनी के बारे में ताजा समाचार क्या हैं और कंपनी के ताजा आर्थिक परिणाम क्या हैं. उसी प्रकार आपकी कंपनी किस उद्योग में है उस उद्योग में कैसी गतिविधियाँ हैं और कुल मिला कर उद्योग की परफॉरमेंस कैसी है यह भी ध्यान रखना होगा. इसके साथ ही कुल मिला कर शेयर बाजार की चाल कैसी है इस पर भी नजर बना कर रखें.

देश की आर्थिक स्थिति और सरकार की आर्थिक नीतियां

देश की आर्थिक स्थिति कैसी है, सरकार की आर्थिक नीतियों का विभिन्न उद्योगों पर क्या असर होगा और सरकारी आर्थिक नीतियों में क्या बदलाव आ रहे हैं यह भी ध्यान रखना होगा. इसके साथ ही अन्य आर्थिक संकेत जैसे कि जीडीपी, महंगाई के आंकड़े, बैंकों में ब्याज की दरें, औद्योगिक उत्पादन में विकास की दरें इन सब पर भी ध्यान रखना चाहिए. संतुलित महंगाई अर्थव्यवस्था में बढ़ती मांग का भी प्रतीक हो सकती है. बैंकों की घटती ब्याज दरों का मतलब कंपनियों के लिए कम ब्याज दरों पर कर्ज उपलब्ध होना हो सकता है. बैंकों में सेविंग पर मिलने वाले ब्याज में कमी का असर यह भी हो सकता है कि लोग अपने निवेश को बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट से हटा कर म्यूच्यूअल फंड्स या सीधे शेयर बाज़ार में लगाने लगें.

दुनिया के आर्थिक हालात

और आज के जमाने में जबकि बहुत से विदेशी निवेशक और संस्थान शेयर बाज़ार में निवेश करते हैं, हमें यह भी ध्यान रखना चाहिए कि दुनिया में आर्थिक हालात कैसे चल रहे हैं. दुनिया के शेयर बाज़ार कैसे परफॉर्म कर रहे हैं.  जिन देशों में विकास की अधिक संभावना होती है विदेशी निवेशक भी वहां निवेश में अधिक दिलचस्पी लेते हैं.


तकनीकी, आर्थिक और सामाजिक बदलाव

शेयर बाजार में पैसा कमाना है तो आसपास हो रहे तकनीकी, आर्थिक और सामाजिक बदलावों की तरफ भी ध्यान रखें. इन बदलावों से किन कंपनियों पर असर हो सकता है यह भी देखें. जैसे लोग टाइप राइटर छोड़ कर कंप्यूटर प्रयोग करने लगे. देशी खाना भुला कर बर्गर और पिज़्ज़ा खाने लगे, नए बदलते फैशन और पहनावे. आने वाले दिनों में यदि डीजल और पेट्रोल के वाहनों की जगह इलेक्ट्रोनिक वाहनों का प्रयोग करने लगें तो इसका किन किन कंपनियों पर प्रभाव पड़ेगा.

तो इस प्रकार यदि आप शेयर बाजार में पैसा कमाना चाहते हैं तो स्वयं को अलर्ट और अप टू डेट रखें, सूचनाएं और समाचार प्राप्त करते रहें और उनके प्रभावों का विश्लेषण भी करते रहें. शेयर बाजार में कमाई के लिए स्वयं को यदि आप इस प्रकार अप टू डेट रखेंगे तो अवश्य ही यहाँ अच्छे पैसे कमाएंगे और आपको घाटा मिलने की संभावना बहुत कम हो जायेगी.


Leave A Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *